Tuesday, January 6, 2015

परमात्मा बन जाओ !! चरण 2

परमात्मा बन जाओ !!कोई न कोई तो है !! वायु का गोल है !! या कोई बोल है या कोई शक्ति है !! जो आरम्भ से है !! यह  भी  आज भी अनजान केवल श्रद्धा या तो तर्क से डिफाइन है !! जाओ बन जाओ वो आप !! नहीं न !!यहाँ तो अपने अपने प्रमेय प्रस्थापित करके  बने रहे है धर्म और संप्रदाय !!बेचारे भले या अबुध या ज्ञानी भी इसी चक्कर में घुस जाते है !! इसी लिए अच्छा ये भी होगा की दूसरे स्टेप पर जाये !!बिगबैंग   ?

मैंने एकबार कोई शिख पंडित का प्रवचन सूना  था !! वो कहते थे ईश्वर को सच में कोई नहीं जानता  है !! सही बात है !! देखो प्राची ग्रन्थ वेद वाणी !!  " को अद्धा वेद को जनिह-------" !! अरे परम व्योम में रहा कोई अन्य जीव  प्राणी एलियन भी नहीं जनता होगा !!

अरे कुछ धर्म रिलिजियान वाले  तो भूल गए की क्या करना है !! पुरे विश्व में मेम्बरशिप बढ़ाने  में जुटे है !!
राजकारण की पार्टियो की तरह !! आतंक वाद !!पागल बन गए है जैसे!!
अरे आप जिसके पार्ट हो उसको कैसे देख सकोगे भला ?

we are a part of the nature and nature using us too !! like trees and other leaving non leaving things !!the knowledge is covered by ignorance !!! rope & snake are different !! in darkness ignorance may misguide you to mean a rope a snake !! darkness i.e. the ignorance !!
reality is a subject of the mind.Even in dream we are there.so we were part of that.in the life also we are a part !! and in life we
know  all have birth and death too !!! so to be there  and to be destroyed  is a part of the life.But we have mind with lots of curiosity to know this all !!Yet we have no knowledge of the total of the stars in this universe !! we are still at this position  with the subject name science,philosophy etc.
 there are so many other living things   too !!
अरे  हम तो एक भाग है इस महान के !! क्या बन शक्ति है परमात्मा !!
then go to next 
आत्मवान  बनो !!

ये भी एक कोशिश है मैंने जो समजा !!
इसी लिए अच्छा ये भी होगा की दूसरे स्टेप पर जाये !!आत्मवान  बनो !!


No comments:

Post a Comment